सावधान! आपकी देखने की शक्ती छीन सकती है मधुमेह, जानिए इसके लक्षण और उपाय

0
45
सावधान! आपकी देखने की शक्ती छीन सकती है मधुमेह, जानिए इसके लक्षण और उपाय
सावधान! आपकी देखने की शक्ती छीन सकती है मधुमेह, जानिए इसके लक्षण और उपाय

भारत में मधुमेह (Diabetes)के रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। डायबिटीज को लेकर लोगों के मन में तरह-तरह के सवाल आते हैं। उदाहरण के लिए, मधुमेह के कारण क्या हैं, वे शरीर को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं, इसलिए आज हम आपको मधुमेह या मधुमेह के बारे में बताते हैं। यह रोग चयापचय रोगों का एक समूह है जिसमें किसी व्यक्ति के रक्त में ग्लूकोज का स्तर सामान्य से अधिक हो जाता है। यह तब होता है जब शरीर इंसुलिन ठीक से नहीं बनाता है या शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन के लिए ठीक से प्रतिक्रिया नहीं करती हैं। इस बीमारी के कारण हमारे शरीर के कई हिस्से भी प्रभावित होते हैं, जिसमें आंखें भी शामिल हैं।

सावधान! आपकी देखने की शक्ती छीन सकती है मधुमेह, जानिए इसके लक्षण और उपाय
सावधान! आपकी देखने की शक्ती छीन सकती है मधुमेह, जानिए इसके लक्षण और उपाय

डायबिटीज (Diabetes) के कारण हमारी आंखों के रेटिना तक रक्त पहुंचाने वाली बारीक नलियां क्षतिग्रस्त हो जाती हैं, जिससे रेटिना पर मौजूद वस्तुओं की छवि सही या बिल्कुल नहीं बनती। इस समस्या को डायबिटिक रेटिनोपैथी कहा जाता है। अगर इसका सही इलाज नहीं किया गया तो मरीज अंधेपन का शिकार हो सकता है। 20 से 70 साल की उम्र के लोगों में इसका खतरा ज्यादा होता है। प्रारंभ में, इस बीमारी का पता नहीं चला है। जब आँखें 40% तक प्रभावित हो जाती हैं, तो इसका असर दिखना शुरू हो जाता है।मधुमेह जितना अधिक समय तक रहेगा, मधुमेह रेटिनोपैथी की संभावना उतनी ही अधिक होगी। लेजर तकनीक से इलाज के बाद ब्लाइंडनेस को 60 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।

रक्त वाहिकाएं क्षतिग्रस्त हो जाती हैं

शरीर का इंसुलिन मधुमेह (Diabetes) से प्रभावित हो जाता है। यह इंसुलिन शरीर में ग्लूकोज पहुंचाता है। जब इंसुलिन का उत्पादन नहीं होता है या कम हो जाता है, तो ग्लूकोज कोशिकाओं में प्रवेश नहीं कर पाता है और रक्त में घुल जाता है। इस कारण से, रक्त में शर्करा का स्तर बढ़ जाता है। यह रक्त शरीर के सभी भागों में पहुँचता है। जब रक्त लगातार उच्च शर्करा के साथ बहता है, तो यह रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचा सकता है।

डायबिटीज इन अंगों को प्रभावित करती है, जानिए कैसे करें बचाव Diabetes affects these organs

पलकें कमजोर होती हैं 

हमारी आंखों की रक्त वाहिकाएं बहुत नाजुक होती हैं, इसलिए वे मधुमेह से जल्दी प्रभावित होती हैं। रक्त वाहिकाओं के टूटने से निकलने वाला रक्त अक्सर रेटिना के आसपास इकट्ठा होता है, जिससे आंखों में अंधापन होता है। भी बनाया जा सकता है।

रोग के लक्षण

– चश्मे के नम्बर वृद्धि – बार-बार आंखों का संक्रमण – सुबह उठने के बाद कम दिखाई देना – सफेद मोतियाबिन्द या काला मोतियाबिन्द

– सरदर्द – अचानक आंखों की रोशनी कम हो जाती है – आंखों में खून की नसें या खून के थक्के दिखाई देना – रेटिना में रक्तस्राव

समाधान:

– मधुमेह का पता चलते ही ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को नियंत्रित करें।

– सामान्य लोगों को साल में एक या दो बार आंखों की जांच करवानी चाहिए।

– जिन लोगों को 8-10 साल से मधुमेह है, उन्हें हर 3 महीने में आंखों की जांच करानी चाहिए।

– अगर आपको लगातार आंखों में दर्द या अधेंरा छाने जैसे लक्षण दिखाई दें तो तुरंत डॉक्टर से मिलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here